कमजोर लोग सुरक्षा की सोचते है और विजेता अवसरों की

कमजोर लोग सुरक्षा की सोचते है और विजेता अवसरों की

अंशुमान नाम का एक लड़का था, उसका स्वभाव तो बहुत शांत था और वो पढ़ने लिखने भी काफी अच्छा था, अपना काम भी वो बहुत बेहतर ढंग से करता था। शुरु से पढ़ने लिखने में भी अच्छा था।

लेकिन उसकी बस एक ही दुर्बलता थी, वो हमेशा रिस्क(Risk) लेने से डरता था, हमेशा safe game खेलता था। जिसकी वजह से वो अपने लाइफ में भी grow नहीं करता पाता। कुछ भी नया करने और experience करने में उसे एक डर महसूस होता था, वो इस चीज से बहुत ज्यादा परेशान हो गया था। हमेशा ऐसा करने की वजह से वो अपनी घिसी पिटी जिंदगी ही जी रहा था।

उसके आस पास के लोग भी उसे आगे बढ़ने में उसकी मदद नहीं करते। इन सबसे वो अंदर ही अंदर से टूट रहा था।
वो अपनी इस situation को किसी से भी शेयर नहीं कर पा रहा था। इस चीज से उसको अन्दर ही अन्दर से घुटन महसूस हो रही थी।
एक तरह से वो अपने comfort zone से बाहर नहीं निकल पा रहा था। उसमें ही फंस कर रह था। उसको अपने कैरियर को भी लेकर बहुत टेंशन लेता था।

Continue Reading

Related Short Story Articles See all Articles

line.svg