कोरोना वायरस: इम्‍यून‍िटी बूस्ट करे कबसुरा कुदिनेर (Kabasura Kudineer) का काढ़ा।

कबसुरा कुदिनेर (Kabasura Kudineer in hindi) का प्रयोग सिद्ध चिकित्सकों द्वारा बुखार, सर्दी और साधारण श्वसन रोगों का कारगर तरीके से उपचार हेतु किया जाता है। कबसुरा कुदिनेर को पारंपरिक तरीकों से तैयार किया जाता है। सिद्ध चिकित्सकों द्वारा इसका प्रयोग श्वसन से संबंधित से जुड़े लक्षणों जैसे गंभीर कफ, ड्राई और वेट खांसी और फ्लू से राहत पाने के लिए हर्बल काढ़े के रूप में किया जाता है। कबसुरा कुदिनेर में एनाल्जेसिक, एंटी-वायरल, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-बैक्टीरियल, एंटीऑक्सीडेंट, हेपाटो-प्रोटेक्टिव, एंटी-पाइरेक्टिक, एंटी-फंगल, एंटी-एस्‍थमेट‍िक और इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुण मौजूद होते हैं। कबसुरा कुदिनेर (Kabasura Kudineer in hindi) पर हुई कई स्टडी की रिपोर्ट यह बताती हैं कि अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण यह श्वसन के दौरान श्वसन नलिका मार्ग में सूजन को कम करने में सहायक करता है। जबकि इसमें मौजूद एंटी-बैक्टीरियल औरएंटी-पाइरेक्टिक गुण बुखार को कम करने का कार्य करते हैं।

Continue Reading

Related Health & Fitness Articles See all Articles

line.svg