TOP 2 Hindi moral stories for class 9 | Sabse Bhadiya Kahaniya
Back to Articles

TOP 2 Hindi moral stories for class 9 | Sabse Bhadiya Kahaniya

14 views • Sep 14th, 2020

1. प्यार और पागलपन (Hindi moral stories)

इंट्रोडक्शन: जय हिन्द भाईओ और बहनो। आज मैं फिर से एक नयी कहानी के साथ आयी हूँ Bhadiya Kahaniya main aap sabka swaagat hai | यह कहानी लिखने क लिए मुझे बहुत जायदा समय लग गया तो आप कमेंट सेक्शन मैं अपना विचार रखना न भूले। 

दरअसल यह कहनी लिखना आसान था पर इसमें किरदार से उनके संवाद को जोड़ना मुश्किल था काम से काम ५ दिन लग गए हां जानती हूँ यह कहानी उतनी भी बड़ी नहीं है है लेकिन है आप जब यह कहनी पड़ेंगे तो आप लोगो को ज़रूर पसंद आएगी। 

तो चालिए आपको कहानी की आउटलाइन बता दू तो ऐसे है की कुछ अधर्म और धर्म लुक्का छुपी खेल रहे थे पकड़ने वाले धर्म था लेकिन पागल था। उसने सबको खोज लिए लेकिन एक बच रहा था वो भी धर्म हे था लेकिन प्रेम था।  उसके न  मिलने से अधर्म ने धर्म क कान भर दिए और जैसे ही वो मिला उसने उसे...   

अरे सब यही बतादूंगी तो कहनी का मज़ा कैसे आएगा अब कहनी पढ़िए। 


कहानी की शुरुवात 

hindi-short-story-seekh



 बहुत समय पहले , जब दुनिया की संरचना होने से और मनुष्यों के कदम रखने से पहले , अधर्म यहाँ घूम रहे थे और बोर हो रहे थे क्योंकि उन्हें क्या करें समझ नहीं आ रहा था | एक दिन सारे अधर्म और धर्म इकट्ठे हए और बहुत ज्यादा बोर हो रहे थे | अचानक, चतुर को एक आईडिया आया :

“ चलो लुक्का छुपी खेलते हैं ! "

सबको यह आईडिया पसंद आया और पागलपन चिल्लाई :

" मैं गिनती गिनुंगी , मैं गिनती गिनुंगी । 

और क्योंकि कोई भी पागलपन को ढूंढने के लिए पागल नहीं था , सबने हाँ कर दी ।

पागलपन एक पेड़ के पास खड़े होकर गिनती गिनने लगी : “ एक , दो , तीन ' जब पागलपन गिन रही थी , धर्म और अधर्म छुपने चले गए । कोमलता ने खुद को चाँद के सींग पर टांग लिया | कपट कचरे के ढेर में छुप गया ।

  Click here to continue reading...

View original post on: https://bhadiyakahaniya.blogspot.com/2020/07/hindi-short-story-seekh-moral.html